भोपाल में 285 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित<

Please Share This News

                          अभी तक सात पुलिसकर्मियों की कोरोना से मौत

भोपाल के  लोगों की सुरक्षा व स्वस्थ विभाग और नगर निगम के हवाले है भोपाल शहर के चौक-चौराहों पर हमारी सुरक्षा के लिए पुलिस मुतेदी के साथ तैनात है लेकिन कोरोना संक्रमण का खतरा तो उन्‍हें भी है अभी वर्तमान में 285 पुलिस कर्मीयो को  कोरोना संक्रमित पाया गया है इनमें से कुछ को होम आइसोलेशन में और बाकी अस्पताल में उपचार करा रहे हैं और इनमे से सात पुलिस कर्मियों की कोरोना संक्रमण से मौत हो चुकी है अभी तक दावा यह किया जा रहा है की सभी पुलिस विभाग के लोगो को कोरोना की वैक्सीन लगा होने का दावा किया जा रहा है जवकि हकीकत कुछ और ही है

जानकारी के अनुसार पुलिस विभाग में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है पुलिस मुख्यालय के अंतर्गत यह सभी विभाग आते है एसटीएफ लोकायुक्त ईओडब्ल्यू को मिलाकर मार्च 2020 से लेकर अभी तक करीब दो हजार पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं और वर्तमान में 285 पुलिसकर्मीयो को संक्रमित पाया गया है जिनका  उपचार किया जा रहा है पुलिस कर्मियों को संक्रमित होने के बाद मौलाना आजाद राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान (मैनिट) में क्वारंटाइन किया जा रहा है वहीं दो मई से पुलिस अस्पताल सातवीं वाहिनी में कोविड सेंटर संचालित किया जा रहा है जो पुलिसकर्मी या उनके परिजन संक्रमित हैं वह 9644419345 नंबर पर सुबह दस से दोपहर 12 बजे और शाम चार से छह बजे वीडियो कॉल के माध्यम से सलाह ले रहे हैं

पुलिस विभाग का कहना है की पुलिसकर्मी बीमार थे इसलिए उनको कोरोना की वैक्सीन नहीं लग पाई थी            एसपी कार्यालय के अनुसार भोपला में अभी तक  95 फीसद पुलिस कर्मिर्यों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा चुकी है जिन पुलिस कर्मियों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई उनमें से कुछ पुलिस कर्मी बीमार थे इसके कारण उनका टीकाकरण पूरा नहीं हो पाया था

अगर किसी को कोरोना वैक्सीन के दोनों टीके लग जाते है तो वहा क्यक्ति ज्यादा/गंभीर कोरोना से संक्रमित नही हो सकता है और वह घर पर रहकर ही ठीक हो जाएगा उस पर कोरोना संक्रमण का ज्यादा असर नहीं होगा

डा. राकेश श्रीवास्तव, सिविल सर्जन जेपी अस्पताल भोपाल 

[ays_slider id=1]

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

[poll id]

आज का अपना राशिफल देखें

Get Your Own News Portal Website 
Call or WhatsApp - +91 84482 65129