आयुष्मान कार्ड होने के बाद भी चिरायु अस्पताल ने कोरोना संक्रमित का इलाज करने से किया इंकार अब अस्पताल प्रबंधक मृतक का नहीं दे रहे डेथ सर्टिफिकेट<

Please Share This News

देश में बढ़ते कोरोना ने देश व प्रदेश में  कोहराम मचा रखा है वही भोपाल में चिरायु अस्पताल का एक मामला सामने आया है                                                                                                                        जहां अस्पताल प्रबंधन का अमानवीय चेहरा देखने को मिला एक कोरोना संक्रमित महिला के बेटे का जिसका नाम योगेश बलवानी बताया जा रहा उसकी माता रुख्मानी बलवानी को 19 अप्रैल को कोरोना के इलाज के चिरायु अस्पताल में भर्ती कराया था। उस दिन से आज तक मैं 2 से 2.5 लाख रूपये जमा कर चुका हूँ।                                                                                                                                                                               चिरायु अस्पताल पर आरोप लगाया है कि अस्पताल प्रबंधक और वहा के डॉक्टर्स ने मेरे पास आयुष्मान कार्ड होने के बाद भी मेरी माँ जोकि कोरोना संक्रमित होने के बाद भी उनका इलाज करने से मना कर दिया आप को बता दे की मध्यप्रदेश सरकार के मुख्य मंत्री ने आयुष्मान कार्ड से कोरोना का इलाज करने के निर्देश दे दिया थे उसके बाद भी  बहुत से अस्पताल इसे मानने से इंकार कर रहे है कोरोना संक्रमितों का इलाज आयुष्मान कार्ड से करने का आदेश होने के बाद मैं कई दिनों से अस्पताल के अधिकारी और अकाउंट डिपार्टमेंट के चक्कर लगा रहा हूँ                                                                                                                                                                           आज तक अस्पताल प्रबंधक आयुष्मान कार्ड से इलाज करने से मना कर दिया जिसके कारण मेरी माता का निधन हो गया। पहले तो अस्पताल इलाज के पूरे पैसे जमा किए बिना उनका शव देने से इनकार कर दिया। कई मिन्नतें करने के बाद अस्पताल ने मेरी माता का अंतिम संस्कार करने के लिए उनकी लाश दी। मैं अभी उनका अंतिम संस्कार कर के लौटा हूँ और अस्पताल से लगातार कॉल आ रहे हैं, जिसमें बचे हुए इलाज के रुपए जमा नहीं करने पर मृत्यु प्रमाण पत्र न देने की धमकी दी जा रही है।

[ays_slider id=1]

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

[poll id]

आज का अपना राशिफल देखें

Get Your Own News Portal Website 
Call or WhatsApp - +91 84482 65129