मीटर रीडर के काम पर निगरानी रखें : प्रबंध संचालक श्री मिश्रा<

Please Share This News

मीटर रीडरों के कामकाज पर निगरानी रखी जाए और यदि कोई मीटर रीडर उपभोक्ता के परिसर में स्थापित मीटर के वाचन के काम में कोताही बरतता है तो उसे तत्काल सेवा से मुक्त कर दिया जाए। यह निर्देश गोविन्दपुरा स्थित कंपनी मुख्यालय में आयोजित टीएल बैठक में मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री गणेश शंकर मिश्रा ने दिए। उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं को हर हालत में मीटर रीडिंग आधारित देयक दिया जाना चाहिए। मीटर सही होने पर एवरेज बिलिंग नहीं की जाए और उपभोक्ताओं की बिलिंग संबंधी शिकायतों का निराकरण मैदानी स्तर पर तत्काल सुनिश्चित किया जाए। एवरेज बिलिंग की समस्या के निराकरण तथा उपभोक्ता द्वारा उपभोग की गई विद्युत की खपत के सही आकलन के लिए खराब या जले मीटरों को एक कार्ययोजना बनाकर तत्काल बदलना सुनिश्चित किया जाए। जिन कनेक्शनों में मीटर नहीं है, उन कनेक्शनों पर तत्काल मीटर लगाए जाएं। बैठक में भोपाल एवं ग्वालियर रीजन के मुख्य महाप्रबंधक के साथ-साथ कंपनी मुख्यालय के सभी मुख्य महाप्रबंधक एवं महाप्रबंधक उपस्थित थे।

प्रबंध संचालक श्री मिश्रा ने कोरोना काल में दिवंगत कार्मिकों के स्वत्वों के प्रकरणों, पेंशन पेमेंट आर्डर आदि एक सप्ताह में जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जहाँ-जहाँ कार्मिकों के मृत्यु दावे के प्रकरण लंबित हैं वहाँ औपचारिकताएं शीघ्र पूर्ण की जाएं। प्रबंध संचालक ने कंपनी में आंतरिक सुधार एवं शिकायतों के निराकरण के लिए इंटरनल विजिलेंस सेल का गठन करने के निर्देश दिए। इससे कंपनी कार्मिकों के विरूद्ध उपभोक्ताओं द्वारा की जा रही अनियमितता एवं भ्रष्ट आचरण की शिकायतों की जांच कर दोषी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को सजा दी जा सकेगी। उन्होंने कहा कि स्पॉट बिलिंग जिला मुख्यालयों पर शुरू हो गई है, इसलिए पूर्व में इन कार्यों में कार्यरत कार्मिकों से अन्य कार्य लिये जाएं। इस अवसर पर उन्होंने रिसर्च एंड डेव्हलपमेंट (आरएंडडी) सेल की गतिविधियों की समीक्षा की और रबी सीजन में किसानों को विद्युत आपूर्ति की तैयारियों के सिलसिले में प्रारंभिक काम शुरू करने के निर्देश दिए।

प्रबंध संचालक श्री गणेश शंकर मिश्रा ने कहा है कि लाइन स्टाफ और जूनियर इंजीनियर को इस प्रकार से सेन्सीटाईज किया जाए कि वे उपभोक्ताओं के हित को समझें और साथ ही कंपनी के हितों का भी ध्यान रखें। उन्होंने कहा कि गुणवत्तापूर्ण विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के साथ ही बकायादार उपभोक्ताओं से व्यक्तिगत संवाद करें ताकि वसूली आसानी से हो सके। उन्होंने कहा कि निम्नदाब के नये कनेक्शन ऑनलाइन दिए जाएं तथा उपभोक्ताओं को ऑनलाइन भुगतान के लिए प्रोत्साहित किया जाए। उन्होंने बताया कि ऑनलाइन भुगतान करने पर 5 रूपये से 20 रूपये तक की छूट का प्रावधान है। प्रबंध संचालक ने निर्देशित किया कि फीडर राजस्व प्रबंधन को मजबूत बनाएं। लाइन स्टाफ से निरंतर संवाद रखा जाए। उन्होंने कहा कि राजस्व संग्रह एवं वसूली के लिए जनप्रतिनिधियों एवं समाज के ओपिनियन लीडर से सतत् संपर्क रखें। श्री मिश्रा ने कहा कि उपभोक्ताओं से अच्छा व्यवहार करें। प्रबंध संचालक ने निर्देशित किया कि राजस्व वसूली के लिए पीडीसी कनेक्शन से वसूली के लिए भू-राजस्व संहिता के अंतर्गत कार्यवाही की जाए। साथ ही बड़े-बड़े बकायादारों से वसूली के लिए संपर्क अभियान चलाया जाए।

 

[ays_slider id=1]

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

[poll id]

आज का अपना राशिफल देखें

Get Your Own News Portal Website 
Call or WhatsApp - +91 84482 65129