बुधनी के लकड़ी खिलौनों को वर्ल्ड फेम बनाकर जीआई टैग दिलाने के प्रयास होंगे – मुख्यमंत्री श्री चौहान

Please Share This News

बुधनी के खिलौना महोत्सव में शामिल हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान
“एक जिला – एक उत्पाद” योजना में बुधनी के लकड़ी के खिलौनों का चयन ,बुधनी की पहचान बने खिलौने ,बुधनी में खोला जाएगा सीएम राइज स्कूल ,शिक्षा के साथ खेलों को भी देंगे प्रोत्साहन
बुधनी खिलौना महोत्सव में मुख्यमंत्री ने गाया “नदिया चले चले रे धारा” गीत ,छोटे बच्चों की प्रतियोगिताओं में शामिल हुए मुख्यमंत्री ,सभी प्रतियोगिताओं के सभी बच्चों को 5-5 हजार रूपये देने की घोषणा ,खिलौना महोत्सव में लगे विभिन्न स्टॉलों का किया अवलोकन

मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि बुधनी के खिलौना उत्पादों को बुधनी के नाम से विश्वविख्यात बनाने के लिए जी आई टैग दिलाए जाने के प्रयास होंगे। विश्व बाजार से प्रतिस्पर्धा के लिए क्लस्टर बनाकर लकड़ी के अलावा अन्य खिलौने भी बनाये जाएंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान शनिवार को खिलौनाकारी बुधनी खिलौना महोत्सव को सम्बोधित कर रहे थे। 14 नवम्बर तक चलने वाले इस महोत्सव में सांसद श्री रमाकांत भार्गव, मुख्यमंत्री श्री चौहान की धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह सहित अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि उनकी जानकारी में है कि अनेक व्यवसायी ऑनलाइन मार्केटिंग कर अधिक कीमत कमाते हैं। कुछ ऑनलाइन कम्पनी तो 5 गुना तक ज्यादा कीमत में बुधनी के खिलौने बेचती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि उनका प्रयास है कि यह काम स्थानीय कारीगर ही करें। सरकार इसके लिए नेटवर्क तैयार करेगी। उन्होंने कहा कि खिलौने ही नहीं यहाँ के गेहूँ और बासमती चावल सहित अन्य उत्पादों को जी आई टैग दिलवाने के हर सम्भव प्रयास होंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आव्हान पर प्रदेश में शुरू की गई “एक जिला-एक उत्पाद” योजना में सीहोर जिले में खिलौना उत्पाद को शामिल किया गया है। खिलौनों की कम लागत, फिनिशिंग के लिए क्लस्टर बनाकर प्रशिक्षण दिलाया जाएगा और अन्य खिलौने निर्माण के लिए आवश्यक मशीनरी भी लगाई जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्थानीय शिल्पियों के व्यवसाय को और बेहतर बनाने के लिए बुधनी के ही गड़रिया नाला के समीप दुकानें बनाकर बाजार विकसित करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि बुधनी को अलग पहचान देने के लिए पारंपरिक रूप से सजावट की जाएगी और आकर्षक प्रवेश द्वार बनाये जाएंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्व-सहायता समूहों को आश्वस्त किया कि उनके उत्पादों को बेहतर बाजार उपलब्ध करवाया जाएगा। उन्होंने युवाओं को उनकी रुचि का प्रशिक्षण देकर रोजगार उपलब्ध करवाने की बात कही। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मुद्रा योजना के अलावा प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर योजना और मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना का युवा लाभ ले। सरकार द्वारा इन योजनाओं में लिए गए ऋण पर ब्याज अनुदान दिया जाता है।

3 दिवसीय बुधनी उत्सव होगा

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अब नर्मदा जयंती पर बुधनी में भी 3 दिवसीय बुधनी उत्सव आयोजित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि धार्मिक आयोजन नर्मदा जी के घाट पर होंगे जबकि अन्य रंगारंग कार्यक्रम बुधनी के बीचोबीच खुले स्थानों पर होंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बुधनी के बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिले और वे आगे बढ़ें। इसके लिए बुधनी में सीएम राइज स्कूल खोला जाएगाl सीएम राइस स्कूल में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ ही आधुनिक लेब, स्मार्ट क्लास, लाइब्रेरी, बस सुविधा सहित अन्य व्यवस्थाएँ निजी स्कूलों की तर्ज पर होंगीl उन्होंने कहा कि बुधनी के बच्चे आगे बढ़े, इसके लिए 10वीं और 12वीं में प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान पर आने वाले बच्चों को क्रमशः एक लाख, 75 हजार तथा 50 हजार रुपये का पुरस्कार दिया जाएगाl साथ ही बुधनी क्षेत्र के बच्चों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए नि:शुल्क कोचिंग की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगीl जिन बच्चों का मेडिकल, आईआईटी, आईआईएम में चयन होगा उनकी फीस सरकार भरेगी l

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बच्चों के समग्र विकास और मनोरंजन के लिए खेल भी बहुत आवश्यक है l गत वर्ष की तरह इस वर्ष भी बुधनी में खेल प्रतियोगिता आयोजित की जाएगीl इसमें क्रिकेट के अलावा खो-खो, कबड्डी, कुश्ती आदि खेलों को भी शामिल किया जाएगाl यह प्रतियोगिताएँ पंचायत, विकासखंड और विधानसभा स्तर पर आयोजित की जाएंगी। सांसद श्री रमाकांत भार्गव और पूर्व विधायक श्री राजेन्द्र सिंह ने भी सम्बोधित किया।

मुख्यमंत्री बच्चों की प्रतियोगिताओं में हुए शामिल और गाया गीत

मुख्यमंत्री खिलौना महोत्सव में आज अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रम और बच्चों की प्रतियोगिताएँ भी आयोजित की गई। बच्चों की प्रतियोगिताओं में मुख्यमंत्री श्री चौहान भी शामिल हुए। उन्होंने बच्चों की तरह मुँह में चम्मच दबाकर उस पर रखे कंचे के साथ चम्मच दौड़ में भाग लिया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने “नदिया चले चले रे धारा” गीत भी गाया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों और अन्य प्रतियोगिताओं के प्रतिभागियों को 5-5 हज़ार रुपये की पुरस्कार राशि दिए जाने की घोषणा भी की।

[ays_slider id=1]

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

[poll id]

आज का अपना राशिफल देखें

Get Your Own News Portal Website 
Call or WhatsApp - +91 84482 65129